Homemobile

पुराना मोबाइल खरीदने से पहले जान लें कुछ ज़रूरी बातें

पुराना मोबाइल खरीदने से पहले जान लें कुछ ज़रूरी बातें
Like Tweet Pin it Share Share Email

क्या आप पुराना मोबाइल खरीदने जा रहें हैं?

आज कल कई लोग हर 2 या 3 महीने में अपना मोबाइल बदल लेते हैं और पुराने मोबाइल को बेच देते हैं ! पुराने मोबाइल को बेचने के लिए लोग olx जैसे वेबसाइट का सहारा लेते हैं ! पुराने मोबाइल को खरीदना बुरा सौदा नहीं है! लेकिन पुराने मोबाइल को खरीदने में कुछ सावधानी बरतनी ज़रूरी है नहीं तो बाद में पछताना पड़ सकता है !Olx जैसे वेबसाइट पर कई लोग चोरी के सामान को भी बेचने के फ़िराक में रहते हैं और इसमें स्मार्ट फ़ोन भी शामिल रहता है इसलिए पुराने सामान या मोबाइल ख़रीदते(buy old mobile phones) वक़्त सावधानी बरतना और कुछ बातों को जानना ज़रूरी है!

old mobile

सामान या मोबाइल का बिल

किसी भी पुराने सामना को खरीदते वक़्त उसका बिल ज़रूर चेक करना चाहिए अगर चोरी का सामान खरीद लिया तो बहुत मुश्किल में फंस सकते हैं इसलिए बिल के द्वारा सामान या मोबाइल को वेरीफाई कर लेना चाहिए! बिल के साथ उस वयक्ति का भी वेरिफिकेशन करने की कोशिश करनी चाहिए जिस से आप सामान या पुराना मोबाइल खरीदने वाले हैं ,इसके लिए आप उसका आधार कार्ड देख सकते हैं !

मोबाइल की कीमत

पुराने फोन या सामान की कीमत उसकी कंडीशन और ख़रीदे गये समय पर निर्भर होती है! कंडीशन अगर अच्छा हो और मोबाइल ज़्यादा पुराना न हो तो मोबाइल की कीमत ज़्यादा होगी !

स्क्रीन और बैटरी

अगर मोबाइल की स्क्रीन अच्छी कंडीशन में है ,कोई क्रेक नहीं है या स्क्रेच नहीं है तो फोन की कीमत बढ़ जाती है और अगर मोबाइल स्क्रीन टूटी हुई हो तो कीमत काफी घट जाती है! मोबाइल के बैटरी बैकअप का भी कीमत पर काफी असर होता है !

मोबाइल के हार्डवेयर

वाईफाई, सिम स्लॉट, स्पीकर, माउथपीस, ज्यैरोस्कोप, और जीपीएस को चेक कर लेना चाहिए यदि इनमे से कोई फीचर काम नहीं कर रहा हो तो मोबाइल को नहीं खरीदना चाहिए या उसको बहुत कम कीमत में खरीदना चाहिए!
इनसब के अलावा इअरफोन, चार्जर, यूएसबी, इत्यादि की भी जांच कर लेनी चाहिए!

ऊपर बताई गयी बातो को चेक करने के बाद अगर आप को मोबाइल पसंद आ जाये और कीमत आप के अनुसार तय हो जाये तो पेमेंट रसीद लेना ना भूलें और पेमेंट रसीद पर मोबाइल बेचने वाले के साइन और फोन का आई.एम.इ.आई. नंबर लिखना ना भूलें और हो सके तो पेमेंट रसीद पर सामान बेचने वाले का आधार नंबर भी लिख लें ! अगर बाद में किसी तरह की कोई परेशानी या क़ानूनी लफड़ा हुवा तो आप या पुलिस ,उसके आधार नंबर के द्वारा उस तक पहुच सकते हैं !

Author: Tech2Hindi

Comments (1)